Thursday, January 19, 2017

कुछ लोग दान देते हैं

कुछ लोग दान देते हैं

मैं ध्यान देता हूँ

सड़क पर

स्क्रीन पर नहीं


मुझे देर हो जाती है

संदेशों के पढ़ने में 

उनका जवाब देने में

ईमेटिकॉन चिपकाने में 


मैं नहीं चाहता कि

मेरी वजह से

किसी की तस्वीर पर

बेवजह

फूल चढ़ें

किसी के नाम के आगे

स्वर्गीय लिखा जाए


मुझे देर हो जाती है

घनघनाते फोन उठाने में 

अॉफ़िस का काम निपटाने में 

किसी के घर पहुँच पाने में 


मुझे ख़ुशी है कि

मैं सही-सलामत हूँ

काम पर आता-जाता हूँ

लोगों से मिलजुल पाता हूँ


कुछ लोग दान देते हैं

मैं ध्यान देता हूँ


19 जनवरी 2017

सिएटल | 425-445-0827

tinyurl.com/rahulpoems 







इससे जुड़ीं अन्य प्रविष्ठियां भी पढ़ें


0 comments: