Thursday, January 1, 2009

2009

दोस्तों का साथ हो

र दिन एक सौगात हो

जायके की चाय हो

तन टाटा की आय हो

नौजवानों की चाल हो

कुछ ऐसा ये साल हो

 

सिएटल,

1 जनवरी 2009

इससे जुड़ीं अन्य प्रविष्ठियां भी पढ़ें


5 comments:

नारदमुनि said...

jaisa aap chahoge vaisa hee hoga ye saal. narayn narayan

Anshu said...

मज़ा आ जाता है आप की कविताए पढ़ कर!

Dr.Bhawna said...

Bahut acha ha aapko naya sal bahut2 mubarak...

COMMON MAN said...

मेरे मन की बात आपने कैसे पढ़ ली.

bhoothnath said...

COMMON MAN said...
मेरे मन की बात आपने कैसे पढ़ ली.
.........are bhaayi common ji ye to hamaare man kee bhi baat thi bhyi....vaah rahul jee...!!