Monday, May 12, 2008

21 वीं सदी

डूबते को तिनका नहीं 'lifeguard' चाहिए
'graduate' को नौकरी ही नहीं एक 'green card' चाहिए

खुशीयाँ मिलती थी कभी शाबाशी से
हर किसी को अब 'monetary reward' चाहिए

जो करते थे दावा हमारी हिफ़ाज़त का
उन्हे अपनी ही हिफ़ाज़त के लिये 'bodyguard' चाहिए

घर बसाना इतना आसान नहीं इन दिनों
कलेजा पत्थर का और हाथ में 'credit card' चाहिए

'blog, email' और 'newsgroup' के ज़माने में
भुला दिये गये हैं वो जिन्हे सिर्फ़ 'postcard' चाहिए

सिएटल,
24 फ़रवरी 2007

इससे जुड़ीं अन्य प्रविष्ठियां भी पढ़ें


0 comments: